Search

Category (जुलार्इ 2015)


  • श्री जगदीश प्रसाद उपाध्याय
    श्री जगदीश प्रसाद उपाध्याय ने पिता स्व. सेठ खेमराजजी के प्रथम पुण्य स्मृति दिवस पर औदीच्य बंधु की संरक्षक सदस्यता ग्रहण की। स्व. खेमराजजी सरल स्वभाव और मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे। औदीच्य समाज शाजापुर में आपकी लोकपि्रयता अद्भुत थी। ऐसे पिताश्री की स्मृति में चरण वन्दना करते है पुत्र जगदीश, मणिशंकर, हरिशंकर एवं स्व. उपाध्यायजी की धर्मपत्नी भगवतीदेवी सहित समस्त परिवार।...
  • श्री अनिल दवे
    ग्रेसिम नागदा में कार्यरत उैन निवासी श्री र्इशान दवे बी.र्इ., एम.टेक, सुपुत्र श्री अनिल दवे एम.पी.इ.बी. उज्जैन ने 'औदीच्य बंधु' की संरक्षक सदस्यता ग्रहण की। धन्यवाद।...
  • पं.श्री राकेशचन्द्र रावल
    पं. राकेश चन्द्र पिता पुरूषोत्तम जी रावल उज्जैन वर्तमान में कार्यालय कलेक्टर भू अभिलेख शाखा उज्जैन में ड्रफ्टमेन के पद पर कार्यरत हैं आप शिवम् साधना एवं ज्योतिष अनुसंधान केन्द्र के माध्यम से अभिमंत्रित सिध्द यंत्र, दोष निवारण,वास्तु दोष, पत्रिका, हस्तरेखा,वैदिक कर्मकाण्ड एवं हवन पूजन आदि कार्य भी सम्पन्न करवाते हैं समाज सेवा में आप सदैव सक्रिय रहते हैं सम्पर्क हेतु आपका पता- एलआयजी १२१ अस्सी क्वाटर महाशक्ति नगर उज्जैन एवं मो.नं. ९८२७५१४४८९ है।...
  • श्री राजीव कुमार पण्डया
    श्री राजीव कुमार पण्ड्या पिता सत्यनारायण पण्ड्या निवासी उैन, एम.काम की प्रथम नियुक्ति १९९२ में शिक्षा विभाग में हुर्इ थी। आप शाप्रावि उटेसरा में शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं। अपनी व्यावहारिक कार्य कुशलता के कारण आप सर्वजन के पि्रय हैं। आप को किक्रेट में विशेष दक्षता हासिल है। सामाजिक गतिविधियों में भी सक्रिय हैं। आपकी सहधर्मिणी श्रीमती रजनी पण्ड्या कुशल गृहिणी बी.ए. तक शिक्षा प्राप्त है। पुत्र मोहित पण्ड्या ग्वालियर से एम.सी.ए कर रहे हैं तथा पुत्री पि्रयंका पण्ड्या बी र्इ एम टेक है और वर्तमान में शासकीय विश्वकर्मा डिग्री कालेज अहमदाबाद गुजरात में कार्यरत है। आपने...
  • श्री महेन्द्रप्रसाद व्यास
    श्री महेन्द्रप्रसाद व्यास पिता स्व. मंगलाकान्त जी व्यास निवासी आमला पटेल कालोनी सरदारपुर जिला धार अपनी सकारात्मक सोच एवं कार्य शक्ति के कारण सरदारपुर में मे.व्यास एसोसिएट्स के नाम से फर्म तथा लेडगांव में साँवरिया स्टोनक्रेशर की स्थापना की। सामाजिक आयोजनों में आप तन,मन,धन से समर्पित रहते हैं।...
  • महेशकुमार भारद्वाज
    कोटा निवासी महेशकुमार भारद्वाज ने बंधु की संरक्षक सदस्यता ग्रहण की है। आपका जन्म ३१ अक्टूबर १९६२ को श्री कान्तिचन्द्र एवं माता स्व. श्रीमती कल्पलता के यहाँ हुआ। आप वर्तमान में इतिहास के व्याख्याता हैं, आपको कलाश्री की उपाधि भी प्राप्त हुर्इ है।...